ब्रिटिश मछुआरे के हाथ लगी 30 किलो की Goldfish, क्या बन पाएगा World record?

फ्रांस में एक गोल्ड फिश मिली है. ये गोल्ड फिश दुनिया की सबसे बड़ी गोल्ड फिश में से एक है. इसका वजन 30 किग्रा है.

मछुआरे के हाथ लगी 30 किलो की Goldfish

फ्रांस के एक ब्रिटिश मछुआरे ने एक बेहद विरली मछली पकड़ी है. ये एक विशाल नारंगी मछली है, जिसका वजन लगभग 30 किग्रा बताया जा रहा है. मछली को पकड़ने वाले शख्स ने इसे नारंगी रंग का होने के कारण ‘कैरेट’ यानी गाजर का नाम दिया. ये मछली लेदर कार्प और कोई कार्प की हाइब्रिड प्रजाति है जो नारंगी रंग की होती हैं. जिस शख्स ने मछली को पकड़ा है उसकी उम्र लगभग 20 वर्ष है. ब्रिटेन के जेनस काउलर ने फ्रांस में मत्स्य पालन के लिए इसे झील में डाल दिया था. न्यूयॉर्क पोस्ट के मुताबिक इस मछुआरे ने शायद दुनिया की सबसे बड़ी गोल्डफिश (Goldfish) पकड़ी है.

मछली को पकड़ कर रिकॉर्ड को तोड़ा

वर्षों से इस मछली को पकड़ने की कोशिश की जाती थी. लेकिन ये कभी पानी के बाहर दिखाई नहीं देती थी. 42 साल के एंगलर एंडी हैकेट ने जब मछली पकड़ने के लिए कांटा पानी में फेंका तो 25 मिनट बाद ही उन्हें मछली मिल गई. ये मछली 2010 में फ्रांस के दक्षिण में मिली 13 किग्रा की नारंगी कोई कार्प से दोगुना आकार की थी. एंडी हैकेट वूस्टरशायर में किडरमिनस्टर में एक कंपनी के डायरेक्टर हैं. इन्होंने शैम्पेन में ब्लूवाटर झील में इस मछली को पकड़ कर रिकॉर्ड को तोड़ा है.

ये भी पढ़े22 महीने बाद डोनाल्ड ट्रंप की ट्विटर पर वापसी, Elon Musk के ऐलान के बाद बहाल हुआ अकाउंट

 केवल भाग्य से संभव हो पाया

मिस्टर हैकेट ने इस मछली को पकडने के बाद कहा कि मुझे हमेशा से पता था कि “कैरेट” वहां है, लेकिन मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं उसे पकड़ सकता हूं. मिस्टर हैकेट को यह मछली पकड़ने और उसका पीछा करने में 25 मिनट लगा था.  उन्होंने कहा कि मुझे पता था यह एक बड़ी मछली है जब यह मेरी पकड़ में आई, इसने छूटने का काफी प्रयास किया. लेकिन फिर जब यह 30 या 40 यार्ड बाद उपर आई तो मैंने देखा कि यह नारंगी रंग की है.  इसे पकड़ना बेहद अच्छा रहेगा. लेकिन यह केवल भाग्य से संभव हो पाया है.

ये भी पढ़े- Covid Cases in China: चीन में मई के बाद कोरोना से पहली मौत, कई शहरों में हालात बेकाबू

-भारत एक्सप्रेस

Also Read