Vastu Tips For Tulsi Plant: क्या आप तुलसी के पौधे को लगाने के सही नियम जानते हैं? जानें क्या कहता है वास्तु

Vastu Tips For Tulsi Plant: मान्यता है कि तुलसी के पौधे को घर में लगाने से सभी देवताओं की कृपा बनी रहती है. वहीं वास्तु के अनुसार जिस घर में तुलसी का पौधा लगा होता है, वहां का वातावरण शुद्ध और सकारात्मक रहता है.

Tulsi Plant

तुलसी के पौधे से जुड़े नियम

Vastu Tips For Tulsi Plant: मान्यता है कि तुलसी के पौधे को घर में लगाने से सभी देवताओं की कृपा बनी रहती है. वहीं वास्तु के अनुसार जिस घर में तुलसी का पौधा लगा होता है, वहां का वातावरण शुद्ध और सकारात्मक रहता है. आयुर्वेद में भी इसकी पत्तियां कई रोगों में लाभदायक हैं. माना जाता है कि बुरी शक्तियां कभी भी उस घर में प्रवेश नहीं कर पातीं जहां तुलसी जी विराजमान रहती हैं.

लेकिन बहुत कम लोगों को पता है कि इसे लगाने के भी कुछ नियम भी होते हैं. जैसे कि इसे किस दिन लगाया जाए और घर में इसे किस दिशा में रखा जाए. इस तरह के नियमों के अनुसार तुलसी जी को घर में स्थान देने पर भगवान विष्णु जी भी प्रसन्न रहते हैं, और मां तुलसी की कृपा से घर में रहने वाले लोगों के जीवन में किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं आती. आइए जानते हैं ,तुलसी के पौधे को लगाने के सही नियम क्या हैं.

तुलसी के पौधे को लगाने की सही दिशा और दिन

ईशान कोण यानी की उत्तर पूर्व दिशा को तुलसी के पौधे के लिए सबसे उपयुक्त माना जाता है. अगर किसी कारणवश इस दिशा में रखना संभव न हो तो पूर्व दिशा, या वहां भी जगह न होने पर उत्तर दिशा में इन्हें स्थान दिया जा सकता है. जिस जगह पर तुलसी जी को स्थान दे रहे हों वहां साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें.

गुरुवार को भगवान विष्णु जी का दिन होने की वजह से, इस दिन तुलसी जी को घर मे लाने पर मां लक्ष्मी की कृपा भी बनी रहती है. इसके अलावा शुक्रवार या शनिवार के दिन भी इन्हें लगाया जा सकता है. रविवार के दिन भूलकर भी तुलसी के पौधे को न लगाएं. वहीं रात्रि के पहर में भी तुलसी के पौधे को लगाना शुभ नहीं माना जाता है.

ऐसे करें तुलसी जी की पूजा

अगर आप नित तुलसी जी की पूजा करते हैं तो इसका लाभ अवश्य मिलता है. ऐसे में तुलसी जी के पास प्रतिदिन नियमपूर्वक दीपक जलाएं. दीपक में तेल की जगह घी को सर्वोत्तम माना गया है. पूजा के दौरान अगरबत्ती जलाने से बचें. इसका उपयोग सही नहीं माना जाता. आप चाहें तो धूप का उपयोग कर सकते हैं.

ठंड में रखें विशेष ध्यान

जाड़े के मौसम में तुलसी जी पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है. इस मौसम में इन्हें किसी हल्के वस्त्र से ढक कर रखें. जब कभी भी तुलसी का पौधा सुख जाए तो उसे तुरंत किसी नदी में विसर्जित कर दें.

Also Read