Himachal Election 2022: शाम 6 बजे तक 65.92 फीसदी मतदान , दुनिया के सबसे ऊंचे पोलिंग बूथ पर 99% वोटिंग

मतदान केंद्रों के बाहर लंबी कतारें लगी

Himachal Pradesh Election 2022: हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनावों के लिए आज मतदान हुआ. राज्य की कुल 68 सीटों पर मतदाताओं ने मतदान किए. राज्य में कुल 7884 मतदान केंद्र स्थापित किए गए थे. जिसमें 7235 ग्रामीण और 646 शहरी क्षेत्रों में विभाजित किया गया . वोटिंग प्रक्रिया सुबह 8 से शाम 6 बजे तक चली जिसके साथ ही विधानसभा चुनाव लड़ रहे 412 उम्मीदवारों की किस्मत मतदान पेटी में बंद हो गई. जिसके नतीजे 8 दिसंबर को घोषित किए जाएंगे.

बता दें कि दुनिया के सबसे ऊंचे पोलिंग बूथ पर 99% वोटिंग हुई हैं  यहां 52 में 51 वोटरो ने किया मतदान किया हैं. निर्वाचन आयोग के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक हिमाचल प्रदेश में कुल 55,92,828 मतदाता हैं. इनमें  से 28,54,945 पुरुष और 27,37,845 महिला मतदाता शामिल हैं. इनमें 38 ट्रांसजेंडर वोटर्स भी हैं.

दोपहर तीन बजे तक 55.65 फीसदी मतदान

दोपहर 3 बजे तक 55.65% वोटिंग हुई. लोगों में मतदान को लेकर उत्साह देखा गया. इस दौरान कांग्रेस ने चुनाव कर्मचारीयो पर आरोप लगाते हुए कहा कि, कई पोलिंग बूथ पर लंबी कतारें देखी जा रही हैं और चुनाव कर्मचारी बेहद धीमी गति से काम कर रहे हैं, जिसके चलते वोटरों को समस्या आ रही है.

दोपहर 1 बजे तक 37.19% वोटिंग हुई. इन सीटों पर वोटिंग बिलासपुर- 34.05%, चंबा- 28.35%, हमीरपुर- 35.86%, कांगड़ा- 35.50%, किन्नौर- 35%, कुल्लू- 43.33%, लाहौल स्पीति- 21.95%, मंडी- 41.17%, शिमला- 37.30%, सिरमौर- 41.89%, सोलन- 37.90%, ऊना- 39.93%

मिले आंकड़ों के अनुसार  सुबह 11 बजे तक 17.98 फीसदी मतदान हुआ है. वोटरों में भारी उत्साह देखने को मिल रहा है. मतदान केंद्रों के बाहर लंबी कतारें लगी हैं.  शाहपुर- 11%, सुंदरनगर- 23%, नाचन- 13%, नादौन- 15%, फतेहपुर- 20%, चंबा- 8%, करसोग- 23%, जोगिंदरनगर- 24%, सरकाघाट- 20% और दून- 7% मतदान हुए हैं.

बीजेपी-कांग्रेस के दिग्गज नेताओं ने किया मतदान

इस विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे. पी. नड्डा ने बिलासपुर के विजयपुर में मतदान केंद्र संख्या-53 में मतदान किया. मतदान करने के बाद नड्डा मे कहा कि प्रजातंत्र की दृष्टि से देखा जाए तो आज का दिन त्योहार का दिन होता है जिस दिन जनता अपने मतों का प्रयोग कर अपनी पसंद की सरकार 5 साल के लिए चुनती है. जेपी नड्डा ने सभी से अधिक से अधिक मतदान करने की अपील की. हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल, उनके बेटे और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने अपने परिवार के साथ मतदान किया. कांग्रेस के कई नेताओं ने भी सुबह-सुबह मतदान किया।

प्रदेश में अब तक का यह ट्रेंड रहा है कि हर चुनाव में सरकार बदलती रहती  है. यानी कि सत्ताधारी पार्टी को हार का सामना करना पड़ता है. इसीलिए इस बार चुनाव प्रचार में बीजेपी ने नया नारा दिया​ कि ‘राज नहीं, रिवाज बदलेंगे.’ यानी सरकार नहीं, बल्कि पुरानी परंपरा को बदलेंगे.

-भारत एक्सप्रेस

Also Read