UP Board Exam में नकल करने वालों पर लगेगा NSA, कक्ष निरीक्षक के खिलाफ भी होगी FIR, योगी सरकार का बड़ा फैसला

UP Board Exam: नकल माफिया से बचने के लिए यूपी बोर्ड ने पहली बार ऐसा कदम उठाया है. परीक्षा के बाद कॉपियों की रेंडम चेकिंग होगी.

UP Board Exam

बोर्ड परीक्षा में नकल करने वालों पर लगेगा NSA (फोटो ट्विटर)

UP Board Exam: उत्तर प्रदेश में अब नकलचियों पर लगाम लगाने के लिए सरकार एक्शन मोड में आ गई है. दरअसल सरकार ने अब 10वीं और 12वीं के बोर्ड की परीक्षाओं में नकल को रोकने के लिए सख्त कदम उठाए हैं. परीक्षाओं में नकल करने वाले छात्रों को अब बख्शा नहीं जाएगा जबकि उस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी. बोर्ड की परीक्षा में जो छात्र नकल करता पाया गया तो उस पर NSA लगाया जाएगा. इतना ही नहीं परीक्षा केंद्र के व्यवस्थापक, कक्ष निरीक्षक के खिलाफ भी FIR कर कार्रवाई की जाएगी. इन आरोपियों के खिलाफ कुर्की की कार्रवाई की जाएगी.

सरकार के सख्त कदमों के चलते अब बोर्ड की परीक्षाओं में नकल करना छात्रों के लिए काफी मुश्किल हो जाएगा, क्योंकि सरकार ने छात्रों पर कार्रवाई के अलावा नकल को पूरी तरह से रोकने के लिए कॉपियों में बारकोड लगाए जाएंगे.

कॉपियों पर लगाए जाएंगे बारकोड

उत्तर प्रदेश बोर्ड की परीक्षाओं में इस बार 2022 के मुकाबले पहले से ज्यादा परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. साल 2022 में बोर्ड परीक्षा में 8373 परीक्षा केंद्र बनाए गए, जबकि 2023 की दसवीं और बारहवीं बोर्ड परीक्षा के इस बार 8752 परीक्षा केंद्र बनाए हैं. यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की प्रैक्टिकल परीक्षाएं दो चरणों में शुरू हो गई हैं. इस बार परीक्षाओं को नकल रोकने के लिए कॉपियों में बारकोड होगा. पहली बार कॉपियों के हर पेज पर बारकोड की व्यवस्था लागू होगी. साढे तीन करोड़ कॉपियों में पहली बार होगा बारकोड का इस्तेमाल होगा.

ये भी पढ़ें-   Rahul Gandhi: जब सही लड़की मिलेगी, कर लूंगा शादी- राहुल गांधी ने बताया उनकी ‘जीवन साथी’ में क्या होनी चाहिए खूबियां

नकल माफिया से बचने के लिए यूपी बोर्ड ने पहली बार ऐसा कदम उठाया है. परीक्षा के बाद कॉपियों की रेंडम चेकिंग होगी. यूपी बोर्ड एशिया की सबसे बड़ी परीक्षा संस्था है. यूपी बोर्ड के हाईस्कूल और इंटरमीडिएट में 58 लाख 67 हजार 329 परीक्षार्थी हैं, हाईस्कूल की परीक्षा में 31 लाख 16 हजार 458 परीक्षार्थी शामिल होंगे, जबकि इंटरमीडिएट में 27 लाख 50 हजार 871 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल होंगे.

16 फरवरी से शुरू होंगी परीक्षाएं

उत्तर प्रदेश में 16 फरवरी से 10वीं और 12वीं की बोर्ड की परीक्षा शुरू हो रही हैं. 16 फरवरी को हाई स्कूल की हिंदी और प्रारंभिक हिंदी की होगी परीक्षा, जबकि इंटरमीडिएट की सैन्य विज्ञान, हिंदी और प्रारंभिक हिंदी से बोर्ड परीक्षा की शुरुआत होगी. होली से पहले ही यूपी बोर्ड की परीक्षाएं खत्म हो जाएंगी.

– भारत एक्सप्रेस

 

Also Read