Mainpuri Bypolls: डिंपल यादव के खिलाफ सतीश पाल ने खरीदा नामांकन पत्र, बीजेपी ने अभी तक नहीं किया है उम्मीदवार का ऐलान

सतीश पाल ने खरीदा नामांकन पत्र

उत्तर प्रदेश की मैनपुरी लोकसभा सीट पर उपचुनाव होने वाले हैं जिसके लिए समाजवादी पार्टी ने डिंपल यादव को अपना उम्मीदवार घोषित किया है. हालांकि डिंपल यादव ने अब तक नामांकन नहीं भरा है. इस उपचुनाव के लिए गुरुवार यानि 10 नवंबर को पहले दिन सिर्फ़ एक ही नामांकन पत्र खरीदा गया था जिसे  यूपी सरकार में पूर्व मंत्री और बीजेपी नेता सतीश पाल ने लिया है. सतीश पाल का कहना है कि वह इस सीट पर अच्छे से चुनाव लड़ेंगे.

पार्टी आलाकमान को फैसले की जानकारी- पाल

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़ BJP नेता सतीश पाल ने कहा कि पार्टी आलाकमान को उनके फैसले की जानकारी है. बीजेपी में नीचे तक की जानकारी आलाकमान के पास रहती है. प्रत्याशी अभी विचाराधीन है. उपचुनाव में उसी उम्मीदवार को टिकट मिलता है, जो चुनाव जीत सकता है.”

सतीश पाल ने बताया कि मैनपुरी लोकसभा सीट पर पाल और गडरिया समुदाय का आधार ज्यादा है इसलिए उनकी दावेदारी भी इस सीट को ले कर अधिक है. उन्होंने बताया कि  1952 के लोकसभा चुनाव में इस सीट से प्रजा सोशलिस्ट पार्टी का उम्मीदवार जीता था, जो कांग्रेस के विरोध में थी. ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि उस समय के उम्मीदवार बंशीधर गडरिया समुदाय के थे और लोगों ने उन्हें अपना मत दिया था.

वहीं सतीश पाल ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा,  “मैनपुरी लोकसभा सीट समाजवादी पार्टी का गढ़ बन गई क्योंकि उनके समय में बूथ कैप्चरिंग आम बन गयी थी. लेकिन अब मोदी जी और योगी जी के नेतृत्व में आई नई भारतीय जनता पार्टी में बेईमानी करना संभव नहीं है। 2006 में विधूना में ब्लॉक प्रमुख का चुनाव हुआ था और हमारे पास जीतने के लिए वोट थे. लेकिन वहां सपा की सरकार थी और मुलायम सिंह मुख्यमंत्री थे. इन्हीं की वजह से पुलिस ने गोलियां चलाईं, हमारा एक समर्थक मारा गया और मुझे जेल हुई और हम चुनाव हार गए.”

-भारत एक्सप्रेस

 

Also Read