कर्तव्य पथ पर भारत की सेना के साथ मिस्र के सशस्त्र बलों का कदमताल, 2016 में फ्रांस की सेना की टुकड़ी ने परेड में लिया था हिस्सा

Republic Day 2023: दिल्ली के कर्तव्य पथ पर पहली बार शामिल मिस्र के सशस्त्र बलों का संयुक्त बैंड और मार्चिंग दल का नेतृत्व कर्नल महमूद मोहम्मद अब्देल फत्ताह एल खारासावी ने किया.

kartvya-path

कर्तव्य पथ पर परेड का एक दृश्य

Republic Day 2023: देश आज 74वां गणतंत्र दिवस मना रहा है. दिल्ली के कर्तव्य पथ जिसे पहले राजपथ के तौर पर जाना जाता था, पर भव्य परेड और अन्य कार्यक्रमों का आयोजन जारी है. इस साल गणतंत्र दिवस के मौके पर मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी (Abdel Fattah El-Sisi) मुख्य अतिथि हैं.

वहीं इस बार दिल्ली के कर्तव्य पथ पर पहली बार मिस्र के सशस्त्र बलों का संयुक्त बैंड और मार्चिंग दल भी शामिल हुआ. मिस्र के इस दल का नेतृत्व कर्नल महमूद मोहम्मद अब्देल फत्ताह एल खारासावी ने किया. इससे पहले पहली बार साल 2016 में फ्रांस की सेना की एक टुकड़ी ने गणतंत्र दिवस परेड में हिस्सा लिया था.

इसे भी पढ़ें: Republic Day Parade 2023 Live: आकाश, अर्जुन से लेकर राफेल तक, कर्तव्य पथ पर दिखा भारत का दम

संयुक्त अरब अमीरात और बांग्लादेश के सेना की एक टुकड़ी भी बन चुकी है परेड का हिस्सा

मिस्र की सेना के 44 जवानों की एक टुकड़ी ने गणतंत्र दिवस की परेड में हिस्सा लेने से पहले भारतीय जवानों के साथ मिलकर रिहर्सल किया था. वहीं परेड में उनके साथ 12 सदस्यीय बैंड टीम भी शामिल रही. भारत और मिस्र की सेना का यह संयुक्त सेना अभ्यास 14 दिनों का है.

2016 में फ्रांस की टुकड़ी के गणतंत्र दिवस परेड में हिस्सा लेने के बाद वर्ष 2017 में संयुक्त अरब अमीरात के रेजिडेंशियल गार्डनर ने 68 वें गणतंत्र दिवस परेड में भाग लिया था. इसके बाद सन 2021 में बांग्लादेश की सेना की एक टुकड़ी भी गणतंत्र दिवस के परेड में शामिल रही.

कमांडर कर्नल महमूद मोहम्मद अब्देलफत्ताह एल्खारासावी ने बताया भारत को महान देश

मिस्र की सेना की टुकड़ी के कमांडर कर्नल महमूद मोहम्मद अब्देलफत्ताह एल्खारासावी ने भारत को महान देश बताते हुए कहा कि यह पहली बार है जब हमने भारत का दौरा किया, यह एक महान देश है क्योंकि इसमें मिस्र जैसी महान सभ्यता है.

कर्नल महमूद ने आगे कहा कि हम यहां 4 दिनों के लिए हैं और भारतीय सेना में अपने दोस्तों के साथ अभ्यास किया है. कर्नल महमूद ने कहा कि भारत और मिस्र के बीच हमारे बहुत अच्छे संबंध हैं. मुझे आशा है कि वे भविष्य में इस संबंध को और बढ़ाएंगे. हमें यह भी उम्मीद है कि भारत से हर कोई मिस्र का दौरा करेगा.

Also Read