PM के मोरबी अस्पताल के दौरे से पहले आनन-फानन में लगा वॉटर कूलर, लेकिन कनेक्शन लगाना भूल गए अधिकारी

PM के मोरबी अस्पताल के दौरे से पहले आनन-फानन में लगा वॉटर कूलर, लेकिन कनेक्शन लगाना भूल गए अधिकारी

अस्पताल में लगा वाटर कूलर लेकिन कनेक्शन करना गए भूल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज गुजरात के मोरबी में पीड़ितों का हाल-चाल लेने गए थे. इस दौरान पीएम ने मोरबी के सरकारी अस्पताल में भर्ती हादसे के शिकार पीड़ितों  का दर्द बांटा और हर संभव मदद का भरोसा भी जताया. लेकिन एनडीटीवी (NDTV) न्यूज चैनल के हवाले से बताया गया कि, पीएम के मोरबी आने से पहले यानि सोमवार को मोरबी अस्पताल की व्यवस्था चाक-चौबंद करने के लिए हॉस्पिटल में रातों-रात 4  नए वाटर कूलर लगाए गए, लेकिन हैरानी की बात यह है कि अस्पताल कर्मचारी इसका कनेक्शन लगाना भूल गए जिसकी वजह से उनमें से किसी में भी पानी नहीं  था.

रविवार को मोरबी मे पुल गिरने से 130 लोगों ने अपनी जान गंवा दी. हादसे के 2 दिन बाद प्रधानमंत्री मोदी मोरबी पहुंचकर हालात का जायजा लिया और पीड़ितों से भी मुलाकात की. एनडीटीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक इस दौरान  मोरबी अस्पताल में पीएम के दौरे के लिए व्यवस्थाओं को दुरुस्त किया गया जबकि पहले से मरीजों के लिए कोई खास व्यवस्था नहीं की गई थी.  अस्पताल प्रशासन ने कूलरों को जलस्रोतों से जोड़ दिया लेकिन उसमें पानी नहीं आ रहा था. NTTV की  रिपोर्ट्स के मुताबिक जबकि वार्ड की दीवारों पर जो पेंट थे वो भी ताजा नजर आ रहे थे. 

ऐसा बताया जा रहा है कि मरीजों को नए लिनन के साथ नए बिस्तरों में स्थानांतरित कर दिया गया था और उन्हें पीएम मोदी के साथ बातचीत के बारे में पहले ही बता दिया गया था. एनडीटीवी की रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि, प्रत्येक बिस्तर के बगल में नया IV ड्रिप स्टैंड लगाया गया था. अस्पताल के बाहरी हिस्से को फिर से रंगने के लिए रात में कम से कम 40 कर्मचारी काम पर थे. इतना ही नहीं वार्ड का अंदर से भी रंग-रोगन किया गया. साथ ही बाथरूम में भी नई टाइल्स लगाई गई.

-भारत एक्सप्रेस

Also Read