गुजरात चुनाव: कांग्रेस ने जारी किया घोषणा पत्र, नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम बदलने समेत किए ये वादे

कांग्रेस का घोषणा पत्र

गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीख जैसे ही पास आ रही है वैसे ही सभी पार्टियां जनता को रिझाने की हर संभव कोशिश कर रही हैं.नेता जनता की समस्या के समाधान के लोकलुभावन वादे कर रहे हैं. इसी बीच आज गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है. कांग्रेस ने इस घोषणा पत्र का नाम ‘जन घोषणा पत्र 2022, लोगों की सरकार होगी’ रखा है. इस दौरान राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पार्टी के प्रवक्ता पवन खेड़ा समेत कई बड़े कांग्रेस नेता मौजूद रहे.

‘किसानों का कर्जा करेंगे माफ

कांग्रेस ने अपने मेनिफेस्टो में युवा, महिला, किसान, सबके लिए कुछ ना कुछ वादे किए है. कांग्रेस ने घोषणा पत्र 10 लाख रुपये तक के इलाज और दवाइयों को मुफ्त करने का ऐलान किया है. इसके अलावा कहा गया है कि अगर राज्य में कांग्रेस की सरकार बनती है तो किसानों का 3 लाख तक का कर्ज माफ किया जाएगा..मेनिफेस्टो में 300 यूनिट मुफ्त बिजली, बकाया बिजली बिल माफ करने का वादा किया गया है. कांग्रेस ने कहा कि अगर हम सत्ता में आते हैं तो शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा में निजीकरण की अनुमति नहीं देंगे.

बदलेंगे नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम

कांग्रेस ने जीत के बाद अहमदाबाद में नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम बदलकर फिर से सरदार पटेल करने का ऐलान किया है.साथ में ये भी कहा गया है कि पहली कैबिनेट की पहली बैठक से ही इसे सरकार का आधिकारिक दस्तावेज बनाकर काम किया जाएंगे.वहीं, बिलकिस बानो गैंगरेप केस के दोषियों की रिहाई रद्द कर उन्हें फिर जेल भेजने की बात भी कही है.

‘युवाओं को देंगे रोजगार

अपने घोषणा पत्र में महंगाई का जिक्र करते हुए कांग्रेस ने 500 रुपए में गैंस सिलेंडर उपलब्ध कराने का वादा किया है.वहीं युवाओं के लिए भी इस घोषणा पत्र में काफी कुछ देखने को मिला.पार्टी ने कहा की सत्ता में आने बाद वो सरकारी और अर्ध सरकारी 10 लाख रिक्त पड़े पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया पूरी की जाएगी. इसके साथ बेरोजगार युवाओं को 3000 रुपये बेरोजगारी भत्ता भी दिया जाएगा. कांग्रेस ने सत्ता में आने पर 10 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी देने का करते हुए कहा है कि इनमें महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण देंगे.

पुरानी पेंशन बहाल करने का वादा

कांग्रेस ने हिमाचल वाला पुरानी पेंशन स्कीम की बहाली का दांव गुजरात में भी चल दिया है. अपने घोषणा पत्र में छात्र शिक्षा को लेकर भी वादे किए हैं. पार्टी ने कहा कि महात्मा गांधी सार्वभौमिक शिक्षा नीति लाएगी. जिससे की छात्रों को सस्ती  शिक्षा दी मुहैया कराई जाएगी. वैसे तो कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में हर वर्ग को साधने की कोशिश की है अब तो आने वाला वक्त ही बताएगा की कांग्रेस के वादे जनता को लुभाने में मददगार साबित होते है या नहीं.

Also Read