C-Voter Opinion Poll: गुजरात में कितनी पार्टी को मिल सकती हैं सबसे ज़्यादा सीटें? ओपिनियन पोल ने चौंकाया

Gujarat Election 2022: एबीपी C वोटर ने ओपिनियन पोल गुजरात में सभी 182 सीटों पर किया है. इसमें 19 हजार 271 लोगों की राय ली गई है. ये ओपिनियन पोल 22 नवंबर से 28 नवंबर तक किया गया है.

Gujarat Election

कौन जीतेगा गुजरात का चुनाव ?

Gujarat Election: गुजरात विधानसभा चुनाव में पहले चरण की वोटिंग में अब बस थोड़ा ही समय बचा है आज गुजरात में शाम तक जोर-शोर से चल रहा चुनाव प्रचार भी थम जाएगा. अभी तक बीजेपी और आम आदमी पार्टी के चुनाव प्रचार का शोर काफी जोर से सुनाई दे रहा है. 1 दिसंबर को 89 सीटों पर पहले चरण की वोटिंग की जाएगी. जबकि 93 सीटों पर 5 दिसंबर को मतदान होगा. इसी के साथ ही मतदान से पहले सर्वे करने वाली कंपनियों ने अपना फाइनल सर्वे भी जारी कर दिया है. गुजरात में इस बार सत्ता की चाभी किसके हाथ लगेगी वो देखना होगा क्योंकि इस बार गुजरात चुनाव त्रिकोणीय होगा गया है.

आप के मैदान में आने के बाद से माना जा रहा है वो कांग्रेस का वोट बैंक अपनी तरफ ले सकती है. इसलिए कांग्रेस की मुश्किलें इस चुनाव में बढ़ सकती हैं. पिछले चुनाव में कांग्रेस ने बीजेपी को टक्कर दी थी. लेकिन थोड़ा सा पीछे रहते हुए वो हार गई थी, तो कांग्रेस इस बार अपनी वहीं सीटों को वापस ले ले, तो उसकी भी किस्मत बदल सकती है. इन सब के बीजेपी ने अपने चुनाव प्रचार में कोई कमी नहीं छोड़ी. बीजेपी ने अपने सभी बड़े-बड़े स्टार प्रचारक मैदान में उतारे है. जिसमें अहम भूमिका खुद प्रधानमंत्री मोदी निभा रहे हैं

ये भी पढ़ें- Gujarat Election: वोटिंग से पहले बीजेपी को बड़ा झटका, 2002 में मोदी सरकार में मंत्री रहे जयनारायण व्यास ने थामा कांग्रेस का दामन

C- वोटर सर्वे में कौन आगे ?

एबीपी C वोटर ने ओपिनियन पोल गुजरात में सभी 182 सीटों पर किया है. इसमें 19 हजार 271 लोगों की राय ली गई है.ये ओपिनियन पोल 22 नवंबर से 28 नवंबर तक किया गया है. सी-वोटर सर्वे के हिसाब से बीजेपी 134-142 सीटे बता रहा है, वहीं कांग्रेस 28-36 तो आप 7-15 सीटें अपनी तरफ खींचता दिख रहा है. इसके अलावा अन्य के खाते में 0-2 सीटे जा सकती हैं.

बीजेपी– 134-142

कांग्रेस-28-36

आप- 7-15 सीटें

बता दें कि ये ओपिनियन पोल है और अभी मतदान होने बाकी हैं. ये सर्वे तकरीबन 20 हजार लोगों का है और गुजरात की जनता कई मुद्दों को ध्यान में रखकर चुनाव लड़ेगी. एक तरफ बीजेपी गुजरात के सिंघासन पर 27 साल से काबिज है तो वहीं कांग्रेस ने अपना साइलेंट रणनीति बनाई है. वहीं आम आदमी पार्टी ने भी जोरदार प्रचार कर गुजरातियों के बीच पकड़ बनाने की कोशिश की है.

– भारत एक्सप्रेस

Also Read