Akhilesh Yadav: ‘चुनाव तो लड़ लूंगा, हमारा काम ही है चुनाव लड़ना है’, 2024 में कन्नौज से लड़ने पर बोले अखिलेश यादव

उत्तरप्रदेश में उपचुनाव की सरगर्मी के बीच अखिलेश यादव ने एक बड़ा ऐलान कर दिया है. उन्होने 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में कन्नौज सीट से लड़ने का ऐलान कर दिया है

Akhilesh yadav lok sabha election

अखिलेश यादव, पूर्व मुख्यमंत्री

उत्तरप्रदेश में उपचुनाव की सरगर्मी के बीच अखिलेश यादव ने एक बड़ा ऐलान कर दिया है. उन्होने 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में कन्नौज सीट से लड़ने का ऐलान कर दिया है. अखिलेश यादव ने अपनी पत्नी डिंपल यादव को मैनपुरी सीट से प्रत्याशी बनाया है. इस बीच अखिलेश यादव ने अपने लोकसभा चुनाव लड़ने को लेकर बात साफ दी है. दरअसल, कन्नोज में एक कार्यक्रम के दौरान पत्रकार ने डिंपल को मैनपुरी से प्रत्याशी बनाए जाने के बाद सवाल पूछ लिया कि 2024 में कन्नौज से लोकसभा चुनाव कौन लड़ेगा. तो फिर अखिलेश ने इसी बात का जवाब दिया.

डिंपल यादव ने 2019 का लोकसभा कन्नौज से लड़ा था. लेकिन उन्हे बीजेपी उम्मीदवार से हार का सामना करना पड़ा था.

‘खाली बैठा हूं क्या करूंगा, चुनाव तो लड़ लूंगा’

अखिलेश यादव ने पत्रकार के सावल का जवाब देते हुए कहा कि खाली बैठा हूं क्या करूंगा, चुनाव तो लड़ लूंगा. हमारा काम ही है चुनाव लड़ना है, जहां से पहली बार चुनाव लड़ा था, वहीं से लड़ लूंगा. वैसे भी पार्टी है तय करेगी की चुनाव में क्या करना है. हमारी चुनावी रणनीति पार्टी की सहमति के आधार पर बनेगी. उन्होने आगे कहा कि मेरा कन्नौज से पुराना रिश्ता है, कन्नौज में उन्होने कई विकास के काम कराएं हैं.

अखिलेश का कन्नौज से पुराना नाता

बता दें अखिलेश का कन्नौज सीट से पुराना रिश्ता है, उन्होने यहां से साल 2000 में उपचुनाव का चुनाव था, जिसके बाद वो वहां से सासंद चुने गए थे. इसके बाद वो लगातार 2 बार कन्नौज से ही सांसद चुने गए. उन्होने 2004 और 2009 में लोकसभा जीती थी. साल 2012 में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बन गए थे, जिसके बाद कन्नौज लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद कन्नौज की राजनीति में डिंपल की एंट्री हुई. 2012 में डिंपल निर्विरोध सांसद चुनी गई थीं और उसके बाद वो 2014 में दोबारा से जीत दर्ज कर सांसद बनी. लेकिन 2019 में उनको बीजेपी के प्रत्याशी के सामने हार का सामना करना पड़ा.

ये भी पढ़- Gujarat Election: गुजरात चुनाव में किस पार्टी को करेंगे वोट? सर्वे में 62 फीसदी मुसलमानों ने बताया कौन है उनकी पहली पसंद

अखिलेश यादव एक निजी शादी समारोह में कन्नौज पहुंचे थे. यहां कन्नौज नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन सुनील कुमार गुप्ता उर्फ मुन्ना के बेटे यश चंद्रगुप्त का तिलक समारोह था, जिसको बधाई देने के लिए अखिलेश यादव उनको फार्म हाउस पहुंचे थे.

– भारत एक्सप्रेस

 

 

Also Read