Gujarat Elections: कांग्रेस की शह पर होते थे गुजरात में दंगे, 2002 में ‘उन्हें’ सबक सिखाने के बाद हुई शांति कायम- बोले अमित शाह

Amit Shah: गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि 2002 में सबक सिखाए जाने के बाद ऐसे तत्वों ने वो रास्ता (हिंसा का) छोड़ दिया. वे लोग 2002 से 2022 तक हिंसा से दूर रहे.

Amit Shah In Gujarat

गृह मंत्री अमित शाह

Amit Shah In Gujarat: गुजरात में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि 1995 से पहले कांग्रेस के शासन काल में साम्प्रदायिक दंगे होते थे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस विभिन्न समुदायों और जातियों के लोगों को आपस में लड़ने के लिए उकसाती थी. अमित शाह ने कहा कि 2002 में अपराधियों को सबक सिखाने के बाद उन्होंने राज्य में इस प्रकार की गतिविधियों को रोक दिया.

बीजेपी प्रत्याशियों के समर्थन में खेड़ा जिले के महुधा में रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह (Amit Shah) ने कहा गुजरात में इस प्रकार के दंगों के माध्यम से कांग्रेस ने अपना वोट बैंक मजबूत किया, जिससे बड़े तबके के साथ अन्याय हुआ. उन्होंने दावा किया कि गुजरात में साल 2002 में दंगे हुए क्योंकि अपराधियों को कांग्रेस से लंबे समय तक समर्थन मिलने के कारण हिंसा में लिप्त होने की आदत हो गई थी.

2002 से 2022 तक हिंसा से रहे दूर

गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि साल 2002 में उन्हें सबक सिखाने के बाद असामाजिक तत्वों ने हिसा को छोड़ दिया. वो लोग 2002 से 2022 तक हिंसा से दूर रहे. बीजेपी ने सांप्रदायिक हिंसा में शामिल होने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करके गुजरात में स्थायी शांति स्थापित की है. अमित शाह ने आज वागरा में एक जनसभा को संबोधित किया और नंदोल में रोड शो भी किया.

गोधरा कांड के बाद पूरे गुजरात में हुआ दंगा

बता दें कि साबरमती एक्सप्रेस से हिंदू तीर्थयात्री अयोध्या से वापस लौट रहे थे. 27 फरवरी 2002 को ट्रेन गोधरा स्टेशन पहुंची. ट्रेन रवाना होने लगी थी कि किसी ने चेन खींचकर गाड़ी रोक ली और फिर पथराव के बाद ट्रेन के एक डिब्बे को आग के हवाले कर दिया गया. S-6 कोच में अग्निकांड की घटना में 59 लोगों की मौत हो गई थी. इस घटना के बाद पूरे गुजरात में सांप्रदायिक हिंसा भड़क उठी और जान-माल का भारी नुकसान हुआ.

ये भी पढ़ें : Bihar: स्टेशन तक सुरंग बनाया फिर गायब कर दिया रेल का इंजन, कबाड़ की दुकान में मिले पुर्जे

वोट बैंक के कारण खिलाफ थी कांग्रेस

जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा प्रदान करने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद देते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस अपने वोट बैंक के कारण इसके खिलाफ थी.

-भारत एक्सप्रेस

Also Read