Bhediya Movie Review: ‘भेड़िया’ बन Varun Dhawan ने लूटी महफिल, अभिषेक बनर्जी ने बनाया माहौल, VFX भी गजब

Bhediya Movie Review : बॉलीवुड एक्टर वरुण धवन ( Varun Dhawan) और कृति सेनन (Kriti Sanon) की फिल्म ‘भेड़िया’ (Bhediya) सिनेमाघर में आज रिलीज हो चुकी है.

Bhediya Movie Review

Bhediya Movie Review Varun Dhawan (फोटो इंस्टाग्राम)

Bhediya Movie Review:  बॉलीवुड एक्टर वरुण धवन ( Varun Dhawan) और कृति सेनन (Kriti Sanon) की फिल्म ‘भेड़िया’ (Bhediya) सिनेमाघर में आज रिलीज हो चुकी है. फिल्म का ट्रेलर देखने के बाद फैंस के बीच इस फिल्म को देखने के लिए काफी एक्साइटमेंट है. वरुण और कृति ने फिल्म का प्रमोशन करने में कोई कमी नहीं छोड़ी है. सितारों ने जगह-जगह जाकर भेड़िया को प्रमोट किया है.

बता दें कि क्रीचर कॉमेडी बॉलीवुड के लिए एक नया जॉनर है. अपनी फिल्मों के जरिए डायरेक्टर अमर कौशिक की हमेशा से कोशिश रही है कि वो अपने दर्शकों को एक अलग मिजाज की फिल्म से इंट्रोड्यूस करवा सकें. वरुण धवन की भेड़िया भी इसी कोशिश का हिस्सा है. इस क्रीचर फिल्म में अमर की कॉमेडी का तड़का कितने परफेक्ट तरीके से लग पाया है.

ये भी पढ़ें-Ajay Devgn: माथे पर चंदन, गले में माला…काशी पहुंच अजय देवगन ने किया बाबा विश्वनाथ के दर्शन, बोले- बहुत दिनों से था इंतजार

फिल्म की कहानी

मेट्रो सिटी दिल्ली के भास्कर (वरुण धवन) को अरुणाचल प्रदेश जीरो में रोड बनाने का प्रोजेक्ट सौंपा गया है. ज्यादा प्रॉफिट कमाने की लालच में भास्कर जंगलों के बीच से रास्ता निकालने का प्लान बना रहा है. हालांकि भास्कर को इसकी जानकारी नहीं है कि जो महज उसके लिए प्रोजेक्ट है,

वो वहां के लोगों की जिंदगी है. प्रोजेक्ट के सिलसिले में अरुणाचल के जीरो पहुंचे भास्कर की मुलाकात पांडा (दीपक डोबरियाल) से होती है, जो लोकल लोगों और भास्कर के बीच कम्यूनिकेटर का काम करता है. इसी बीच पांडा उन्हें एक अफवाह ‘विषाणु’ की जानकारी देता है. जिससे भास्कर को पता चलता है कि जंगल में एक ‘विषाणु रहता है, वो उन लोगों का शिकार करता है, जो जंगल को हानि पहुंचाने की कोशिश करते हैं. काम के सिलसिले में जंगल से गुजर रहे भास्कर भेड़िये की चपेट में आ जाते है.और बचते-बचाते उसे भेड़िया काट लेता है.

हालांकि इसके बाद से भास्कर की जिंदगी बदल जाती है क्योंकि उसे एहसास होता है कि उसमें भेड़ियों वाली शक्ति आ गई है. इच्छाधारी भेड़िया बन चुके भास्कर को इस मुसीबत से छुड़ाने में जनार्दन (अभिषेक बनर्जी), जेमिन (पालिन कबाक) और वेट डॉक्टर (कृति सेनन) मदद करते हैं. भेड़िया से क्या भास्कर आम इंसान बन पाता है? क्या वो प्रोजेक्ट बनाने में कामयाब होता है?

वरुण धवन के फैंस के लिए यह फिल्म ट्रीट से कम नहीं है. अपने फेवरेट एक्टर को भेड़िये के रूप में देखकर वो निराश नहीं होंगे. ओवरऑल यह फिल्म एक एंटरटेनमेंट के साथ-साथ गहरा मैसेज भी दे जाती है, जिसे समझना जरूरी है.

-भारत एक्सप्रेस

Also Read